South Korea में भारी बारिश का कहर, 7 लोगों की मौत

Spread the News

दक्षिण कोरिया के सियोल महानगरीय क्षेत्र में भारी बारिश के कारण गंगनम जिले की सड़कें जलमग्न हो गई हैं, जिससे कई वाहन डूब गए और सार्वजनिक परिवहन प्रणाली ठप पड़ गई। बारिश संबंधी घटनाओं में कम से कम सात लोगों की जान चली गई, जबकि 6 अन्य लोग अब भी लापता हैं। आपात सेवा कर्मियों के रातभर सफाई अभियान चलाने के बाद मंगलवार सुबह सड़कें कुछ हद तक लोगों के यात्र करने लायक हो पाईं। सियोल महानगरीय क्षेत्र की अधिकांश मेट्रो सेवाएं सामान्य रूप से चल रही हैं, हालांकि सुरक्षा कारणों के चलते करीब 80 सड़कें और नदी किनारे बने कई पार्किंग स्थल बंद रहे।

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति यून सुक योल ने सार्वजनिक और निजी कंपनियों को अपने समय में बदलाव करने का आह्वान किया है, ताकि एक समय पर अधिक लोग यात्र ना करें। उन्होंने ठप पड़ी सेवाओं को जल्द बहाल करने तथा खतरनाक स्थानों से लोगों को तत्काल निकालने के निर्देश अधिकारियों को दिए। गृह एवं सुरक्षा मंत्रालय के अनुसार, बारिश सोमवार सुबह शुरू हुई थी, जो शाम तक बेहद तेज हो गई। सियोल और आसपास के शहरों में लगभग 800 इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं, जबकि 400 से अधिक लोगों को अपने मकान खाली करने पड़े।

दक्षिणी सियोल के ग्वानक जिले में सोमवार रात एक ‘बेसमेंट होम’ में पानी भरने के बाद तीन लोगों ने मदद मांगने के लिए फोन किया गया था, लेकिन बचावकर्मी उन तक नहीं पहुंच सके। मंत्रालय के अनुसार, एक अन्य महिला डोंगजाक जिले स्थित अपने ही घर में डूब गई। जिले में एक व्यक्ति की संभवत: क्षतिग्रस्त बिजली के तारों की चपेट में आने से मौत हो गई। ग्वांगजू शहर में एक बस अड्डा ढह गया जिसके मलबे में दबने से दो लोगों की मौत हो गई।

देश की मौसम एजेंसी ने मंगलवार को सियोल महानगरीय क्षेत्र और आसपास के क्षेत्रों के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। एजेंसी के अनुसार, कुछ क्षेत्रों में एक घंटे में पांच से 10 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है। सियोल के डोंगजाक जिले में सोमवार से मंगलवार सुबह नौ बजे तक 42 सेंटीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई।