मान सरकार आज करेगी शांति मार्च, विधानसभा से लेकर राजभवन तक मार्च करेंगे विधायक

Spread the News

मान सरकार द्वारा उनके विधायकों की खरीद-फरोख्त को लेकर 22 सितंबर यानि आज शक्ति प्रदर्शन के लिए विशेष सत्र को रद्द करने का मुद्दा अब गरमाता जा रहा है। गवर्नर द्वारा मंजूरी वापस लिए जाने के बाद सरकार के सभी मंत्री व विधायकों ने इसका विरोध किया। वहीं अब इसी के खिलाफ आज आप शांति मार्च करने जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक 92 विधायक सुबह 11 बजे विधानसभा से इस मार्च को शुरू करेंगे जो राजभवन तक चलेगा। इस दौरान मंत्री व विधायक आगामी रणनीति पर चर्चा करेंगे। वहीं उधर सीएम मान ने आज अहम कैबिनेट मीटिंग भी बुलाई है। जिसमें सरकार के नेता व विधायक अहम मुद्दों पर विचार विर्मश कर सकते हैं।

बता दें कि राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित के प्रधान सचिव जे.एम. बालामुर्गम ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर इसकी सूचना दे दी है। जारी पत्र में कहा गया है कि विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा, विधायक सुखपाल सिंह खैहरा, पंजाब भाजपा के प्रधान व विधायक अश्वनी शर्मा की ओर से लिखित तौर पर सूचित किया गया था कि विधानसभा के नियमों के अनुसार सिर्फ पंजाब सरकार के पक्ष में विश्वास मत प्रस्ताव लाने के लिए विशेष सत्र बुलाने की कोई कानूनी व्यवस्था नहीं है, जिसके बाद इस मामले पर विचार किया गया और एडीशनल सॉलिस्टर जनरल ऑफ इंडिया सत्यपाल जैन से कानूनी राय मांगी गई। उन्होंने अपनी कानूनी राय में कहा है कि सिर्फ विश्वासमत प्रस्ताव लाने के लिए विधानसभा के सत्र को बुलाने की पंजाब विधानसभा के विधि विधान व कंडक्ट ऑफ बिजनैस में कोई व्यवस्था नहीं है। पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने कानूनी राय को देखते राज्य सरकार की ओर से 22 सितंबर को एक दिन का विश्वासमत प्रस्ताव लाने के लिए बुलाए गए सत्र को दी गई मंजूरी को वापस ले लिया है। राज्यपाल ने 20 सितंबर को विशेष सत्र बुलाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।